दोस्तों यह पोस्ट मैं उन Students को ध्यान में रखकर लिख रहा हूँ जो किसी न किसी तरह की प्रतियोगी परीक्षा (Competitive Examination ) की तैयारी कर रहे हैं।
वैसे तो प्रथम विश्वयुद्ध ( First world war in hindi ) के विषय मे सभी जानते है। लेकिन आज मैं आपको इसके बारे में कुछ खास बातों पर जनकरीं दूँगा जिसे Exam में बार बार पूछा जाता रहा हैं। तो चलिए शुरू करते है ।

The first world war facts in hindi by gyaan ki dhara , gk, first world war details, hindi me vishva yuddh ,


– प्रथम विश्वयुद्ध की शुरुवात 28 जुलाई, 1914 ई. को ऑस्ट्रिया द्वारा सर्बिया पर किये गए आक्रमण से हुईं।


– प्रथम विश्वयुद्ध लगभग 4 सालों तक चला और इसमे 37 देशों ने भाग लिया था।


– ऐसा माना जाता है कि प्रथम विश्वयुद्ध का तत्कालीन कारण आस्ट्रिया के राजकुमार आर्कड्यूक फर्डिनेंड की बोस्निया की राजधानी सेराजेवो में 28 जून, 1914 को की गई हत्या थीं।


– प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान विश्व, मित्र राष्ट्र और धुरी राष्ट्र जैसे दो खेमों में बँट गया था ।


– इंग्लैंड, रूस, फ्रांस, जापान,सयुंक्त राज्य अमेरिका जैसे देश मित्र राष्ट्र में शामिल थे।


The first world war facts in hindi by gyaan ki dhara , gk, first world war details, hindi me vishva yuddh , gyaan ki dhara

– जर्मनी,आस्ट्रिया,तुर्की,हंगरी,इटली जैसे देश धुरी राष्ट्र में शामिल थे।


– प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी ने 1 अगस्त, 1914 ई. को रूस पर और 3 अगस्त, 1914 ई. को फ्रांस पर आक्रमण किया।


– मित्र राष्ट्र में शामिल होने की वजह से इंग्लैंड, जर्मनी द्वारा फ्रांस पर आक्रमण से 4 अगस्त, 1914 ई. प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हो गया।


– आपसी मतभेद की वजह से इटली 26 अप्रैल, 1915 ई. को मित्र राष्ट्र की तरफ से प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हुआ। इसके पहले वो धुरी राष्ट्र की तरफ से प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल था।


– जर्मनी के यू-बोट द्वारा इंग्लैंड के लुसितानिया जहाज को डुबाने के बाद अमेरिका प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हुआ क्योंकि उस जहाज में मरनेवालों में 128 व्यक्ति अमेरिकी थे।


The first world war facts in hindi by gyaan ki dhara , gk, first world war details, hindi me vishva yuddh , gyaan ki dhara , world war

6 अप्रैल, 1917 ई. को अमेरिका प्रथम विश्वयुद्ध में शामिल हो गया।


– ब्रिटेन,फ्रांस और अमेरिका में जुलाई 1918 ई. में सयुंक्त रूप से सैनिकों का अभियान आरंभ किया। इसी कारण जर्मनी और उसके सहयोगी देशों की हार होने लगीं।


– सितंबर 1918 में बुल्गारिया, अक्टूबर 1918 में तुर्की और 3 नवंबर को हंगरी और आस्ट्रिया के सम्राट ने आत्मसमर्पण कर दिया।


– जर्मन सम्राट कैंसर विलियम द्वितीय ने 10 नवंबर 1918 ई. को अपने पद से इस्तिफा दे दिया और हॉलैंड भाग गया।


– जर्मनी की समाजवादी प्रजातांत्रिक दल ने सत्ता अपने हाथ मे लेकर लोकतंत्र की स्थापना की और फ्रेडरिक एबर्ट को जर्मनी का चांसलर बनाया।


फ्रेडरिक एबर्ट ने 11 नवंबर 1918 ई. को युद्ध विराम की संधि पर हस्ताक्षर कर दिए। इस तरह प्रथम विश्वयुद्ध समाप्त हो गया।


18 जून 1919 ई. को पेरिस शांति सम्मेलन हुआ जिसमें 27 देशों में भाग लिया।


28 जून 1919 ई. को वर्साय की संधि जर्मनी के साथ हुई। इस संधि के तहत जर्मनी की सेना को 1 लाख तक सीमित कर दिया गया।


– प्रथम विश्वयुद्ध के हर्जाने के रूप में जर्मनी से 6 अरब 10 करोड़ पौण्ड की राशि की माग रखी गयी।


– अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रथम विश्वयुद्ध के कारण राष्ट्रसंघ की स्थापना हुई।


दोस्तों इसी तरह यह प्रथम विश्व युद्ध खत्म हुआ और निश्चित रूप से अमेरिका एक महाशक्ति के रूप में उभरकर सामने आया।


दोस्तों हमारा “ प्रथम विश्वयुद्ध से जुड़े रोचक तथ्य ” General Knowledge का यह Article कैसा लगा। यदि आप का इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई सुझाव, शिकायत हो तो आप हमें gyaankidhara@gmail.com पर Contact कर सकते हैं धन्यवाद।

नोट :- दोस्तों यह जानकारी हमने नेट , बुक्स आदि से सर्च करके लिखा है , हो सकता हैं इसमे कोई त्रुटि हो। यदि इस लेख में कोई त्रुटि होती है तो उसके लिए हम माफ़ी चाहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here